स्वस्थ रहने के लिए खान पान

स्वस्थ रहने के लिए खान पान

स्वस्थ रहने के लिए खान पान

कितनी कोफ्त होती है न,जब किसी मॉडल को या किसी अन्य लेडी के फिगर फोटोज को देखते हैं, बस पुराने दिन याद कर मन मसोसते रह जाते हैं कि पहले तो बिना किसी डाइटिंग के भी इतने दुबले थे, पर अब खान-पान का ध्यान रखने के बावजूद वजन कम नहीं हो रहा है। कोई भी नई ड्रेस सिलवाने को डालो, तो टेलर को 3-4 अंगुल की मार्जिन की सिलाई रखने को कहते हैं, फिर कुछ समय बाद ही सिलाई खुलवानी पडती है क्योंकि ड्रेस कुछ ही दिन में टाइट हो जाती है।

सेहत कैसे बनाये घरेलू उपाय –

कुछ तो ये सोचकर अपनी जीभ पर अंकुश लगाना छोड़ देते हैं कि इतना परहेज, इतनी वर्जिश कर रहे हैं, पेट कम करने के लिए प्राणायाम भी कर रहे हैं, उसके बाद भी वजन जैसा कम होना चाहिये था वैसा कम नहीं हुआ, वजन की खातिर हमने इतना काम्प्रोमाईज़ किया, फिर भी सफलता नहीं मिली । यदि आप भी ऐसी ही परिस्थितियों से गुजर चुके हैं, या परेशानी फेस कर रहे हैं तो सेहत कैसे बनाये घरेलू उपाय आप पढिये और डाईट में थोडी सी सावधानी बरतें और आप पाएंगे अपने मन माफिक फिगर, वो भी बिना किसी इन्वेस्टमेंट के, विश्वास नहीं होता न?

वजन कम करने के लिए घरेलू उपाय –

आपको बता दें, वजन घटाने के तरीके हेतु आप जो कोशिश कर रहे हैं और आपने जो मशक्कत की है, उसके एक परसेंट से भी कम कोशिशों में आपको बेहतरीन रिजल्ट मिलेगा, हां बात सिर्फ विश्वास की है, और हम आपके विश्वास को तोड़ने नहीं, बल्कि बनाये रखने में वजन कम करने के लिए घरेलू उपायही विश्वास करते हैं। तो आइए,एक नज़र डालते हैं उन कोशिशों पर, जो आप आसानी से कर सकते थे,प र अब तक आपने उन पर गौर ही नहीं फरमाया –

परेशान होने की जरूरत नही है हम बता रहे हैं वजन कम करने के लिये घरेलू उपाय।

हम रोजाना सुबह शाम वॉक जरूर करते हैं, वॉकिंग के समय का भी ध्यान रखते हैं, नियमित रूप से उसके लिये घड़ी में अपने टाइम टेबल के हिसाब से नियत समय पर घर से निकल पड़ते हैं । पर लगता है कि इतनी कवायद के बाद भी वजन में तिनका भर भी अंतर समझ नहीं आया । बेशक आप अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक हैं पर घूमने का समय अपने हिसाब से डिसाइड करने के बजाय खाने के तुरंत बाद का होना चाहिए , क्योंकि किसी अन्य समय 30 मिनट तक वाकिंग के बराबर भोजन के तुरंत बाद 10 मिनट की वाकिंग ज्यादा इफेक्टिव होगी । साथ ही केलोरिज बर्न करने में इफेक्टिव भी ।

स्वस्थ रहने के लिए खान पान –

भारतीय खाने की विशेषता यह है कि हम दाल-चावल, रोटी-सब्जी-रायते-चटनी आदि अनेक चीजों को एक बार के खाने में शामिल कर भरपेट खाने के साथ ही एक कटोरी स्वीट डिश (खीर, फ्रूट सलाद, श्रीखंड आदि कुछ भी) लेना नहीं भूलते, बेशक खाने के बाद मीठा खाना हेल्थ की दृष्टि से अच्छा होता है पर वो हेल्दी तभी होगा जब हमारा डेसर्ट शक्कर से न बना हो, खाने के साथ फ्रूट्स भी लेना पेट के साथ अत्याचार होगा । क्योंकि फल जल्दी डाइजेस्ट होते हैं,और खाना डाइजेस्ट होने में तुलनात्मक रूप से देखें तो ज्यादा समय लगता है, इसीलिए इनका कॉम्बिनेशन जरा सोच समझ कर बनायें, वरना बॉडी में तेजी से फेट जमा होने लगता है ।फल खाने और खाना खाने के समय में एक डेढ़ घंटे का अंतर जरूर रखें ।

पानी पीना हेल्थ के लिए बहुत अच्छा होता है, क्योंकि पानी में घुलकर विषाक्त, अनुपयोगी तत्व और फैट शरीर से बाहर चले जाते हैं।  स्वस्थ रहने के लिए खान पानहम कितना पानी पियें ? इस पर सब अपनी अलग अलग सलाह देते हैं, एक स्टडी के अनुसार अपने वजन को उसे 30 से डिवाइड कर जो अंक आये उतने लीटर पानी पीना चाहिए । मसलन किसी का वजन 60 किलो है तो 30 से डिवाइड किया तो 2 आया, मतलब कम से कम 2 लीटर पानी पीना ही चाहिए, पर बहुत ज्यादा भी नहीं, क्योंकि ज्यादा पानी पीने से सोडियम की मात्रा की कमी से दिमाग और फेफड़ों में सूजन आ सकती है ।

बेस्ट फीमेल फिगर साइज –

कुछ महिलाओं को देखकर एक्दम से मन में आता है कि ऐसा होना चाहिए बेस्ट फीमेल फिगर साइज। ऐसी सोच वाकई बहुत अच्छी है किंतु केवल सोचकर ही तो नहीं रहना है उसके लिये कोशिश भी तो करना होगी ।

हममें से कुछ लोग दिन भर में शरीर के लिए जरूरी मात्रा में पानी नहीं पी पाते, तो ऐसे लोग इस प्रकार की फल-सब्जियों को भोजन में शामिल करें जिसमें पानी भरपूर पाया जाता है जैसे खीरा, जिसमें पानी बहुत ज्यादा और कैलोरी बहुत कम होती हैं, जो वजन नियंत्रित रखने में हेल्पफुल होता है ।

दूध हमारे हेल्थ के लिए बहुत जरूरी होता है, इससे हड्डियां मजबूत होती हैं, पर क्रीम वाला दूध रोज पियें तो फायदे की जगह नुकसान हो सकता है क्योंकि शरीर पर अनावश्यक फेट एकत्रित होता जाएगा, इसीलिए जब भी दूध पियें, फेट फ्री मिल्क ही पियें ।

प्रोसेस्ड फूड से भी वजन बढ़ने का खतरा बना रहता है । ऐसे फूड को पकने में कई प्रकार के प्रोसेस से होकर गुज़रना पड़ता है साथ ही पेट की चर्बी कम करने के लिए उपायउसमें तेल, मसाले और घी होने के कारण से सेहत के लिए खतरनाक हो सकते हैं । इसीलिए यदि वजन के प्रति सतर्क हैं तो चिप्स पॉपकॉर्न, स्नैक्स जैसी चीजों से दूरी बनाएं रखें ।

पेट की चर्बी कम करने के लिए उपाय –

आजकल कोई भी सेलिब्रेशन केक के बिना अधूरा ही होता है, आजकल तो बच्चे देर रात तक जागते हैं और बडे देर रात तक अपना कुछ काम भी करते रहते हैं ऐसे समय भूख लगने पर वे अपनी सुविधा से नूडल्से आदि भी बहुत खाते हैं, नतीजा ये सभी फैटी चीजें खाकर एक ही जगह बैठे-बैठे शरीर पर अनकंट्रोल्ड फैट का जमाव होते जाता है। ये नुकसानदायक चीजें तुरंत असर नहीं दिखाती किंतु एक लंबे समय बाद इसका विपरीत असर देखने को मिलता है।

अक्सर हम मार्केट में शॉपिंग के लिए निकलते हैं और बहुत देर तक घूमने-फिरने पर भूख लगती है तो हम बाहर का ऑयली फूड खाने के बजाय मार्केट में जूस सेंटर पर अपने मनपसंद फलों का जूस पीना पसंद करते हैं। यह सोचकर कि ये हमारे लिए नुकसानदेय नहीं, पर ये हमें पता होना चाहिए कि मार्केट में बने इस जूस में सफेद शक्कर बहुत ज्याेदा डाली जाती है ।

जब पेट मोटा हो जाता है तो उसके लिये उपाय खोजते रहते हैं किंतु यदि पेट की चर्बी कम करने के लिए उपाय करना ही है तो अपने खानपान का ध्यान रखना चाहिए । जो खायें वह हेल्दी फूड होना चाहिए । खानपान में समय का भी ध्यान रखना चाहिए । बहरहाल अगर आप अपने मोटापे से निजात पाना चाहते है तो इन सरल मोटापा कम करने के घरेलू उपाय के अपनाएं और तुरंत ही अपने पेट को कम होता देखे|

फिट रहने के लिए डाइट-

मौसमी फल भी वजन कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं , जैसे संतरे में 87% पानी और लो फैट होता है, इसको खाने के बाद भूख बहुत कम लगती है जिससे वजन कंट्रोल में रहता है ।

इस प्रकार आपने समझ लिया होगा कि हम ये सारी वस्तुएं रोजाना खाते हैं, ये सब हमारे किचन में मौजूद भी होती है, बस उसे उपयोग में लाने का तरीका और समय थोड़ा सा मैनेज करना है, बस फिर क्या है, अच्छा विटामिन-प्रोटीन से भरपूर हेल्दी फूड खाएंगे तो वजन कंट्रोल में रहेगा ही, साथ ही ब्यूटी भी बोनस में मिलेगी ।

About Author

Post a Comment